मधुमक्खियां

ख़तम हो जाये

क्या होगा
अगर दुनिया की सारी

मधुमक्खियां, डंक मारने और शहद बनाने के अलावा भी बहुत कुछ काम करती हैं। वो लगभग हमारी सारी ही उपयोग में आने वाली फसलों का पोलिनेशन करती हैं।

ये ग्लोबल इकॉनमी में हर साल 200 बिलियन डॉलर का योगदान है, लेकिन क्या होगा अगर दुनिया की सारी मधुमक्खियां ख़तम हो जाए...?

अगर मधुमक्खियां ख़तम हो जाये तो आप सिर्फ फल और सब्जी ही नहीं खोएंगे, बल्कि, आपको बादाम, नारियल, चॉकलेट्स और कॉफी को भी अलविदा कहना होगा।

मधुमक्खियों का ख़त्म होना, फूड चेन्स को ख़त्म कर देगा। सबसे पहले पौधे पोलिनेशन न होने के कारण ख़त्म होने लगेंगे, जिसकी वजह शाकाहारी पशु ख़त्म हो जायेंगे।

फसलों के उत्पादन में मधुमक्खी का सबसे बड़ा हाथ होता है, और अगर दुनिया की सारी मधुमक्खियों का सफाया हो गया तो फसलें भी बर्बाद हो जाएंगी।

जब आप खाने की इस गंभीर कमी और बढ़ती महंगाई को 8 बिलियन की बढ़ती जनसँख्या के साथ मिलाकर देखेंगे, तो ये बिलकुल भी एक अच्छी स्थिति नहीं दिखती।

1960 से फसलों का उत्पादन जो पोलिनेशन पर निर्भर था उसमें 300 प्रतिशत की बढ़त हुई है। इसे कायम रखने के लिए हमें बस अपनी धरती को बेहतर बनाना होगा।

तो चलिए इस विश्व को सही तापमान पर रखने की कोशिश करते हैं। विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

 What if the Bees are Over