भारतीय मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन जीवनी | Boxer Lovlina Borgohain Biography in Hindi 2022

Indian Boxer Lovlina Borgohain Biography in Hindi, भारतीय मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन जीवनी, Lovlina Borgohain Education, Lovlina Borgohain Religion, Family, Boxing Career, Medals, Awards.

लवलीना बोर्गोहेन (Lovlina Borgohain) एक भारतीय मुक्केबाज हैं, जिन्होंने 2021 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक (Summer Olympics) में महिलाओं के वेल्टरवेट स्पर्धा में कांस्य पदक जीता, लवलीना असम की पहली महिला है, जिसने ओलिंपिक के लिए भारत का प्रतिनिधित्व किया है। आइये इस लेखा में जानते है, भारतीय बॉक्सर लवलीना बोर्गोहेन के बारे में।

Boxer-Lovlina-Borgohain-Biography-in-HIndi

Table of Contents

Boxer Lovlina Borgohain Biography Hindi | बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन जीवन परिचय

Boxer Lovlina Borgohain ने 2017 में, वियतनाम में आयोजित एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता। नवंबर 2018 में, उसने नई दिल्ली में आयोजित एआईबीए (AIBA) महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप और 2019 AIBA महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में वेल्टरवेट वर्ग में कांस्य पदक (bronze medal) जीता। शिव थापा के बाद मुक्केबाजी में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली लवलीना असम की दूसरी मुक्केबाज हैं। साथ ही वह असम की छठी व्यक्ति है, जिसने अर्जुन पुरस्कार (2020 में) प्राप्त किया है।

नाम (Name)लवलीना बोरगोहेन
निक नामलवलीना
जन्म की तारीख2 अक्टूबर 1997 (गुरुवार)
उम्र (Age)24 साल (2022 तक)
जन्म स्थानगोलाघाट जिला, असम, भारत
होमटाउनबारामुखिया गांव, गोलाघाट जिला, असम, भारत
राष्ट्रीयताभारतीय
धर्म (Religion)हिंदू (Hindu)
राशि चक्रतुला
स्कूलबरपाथर गर्ल्स हाई स्कूल, गोलाघाट
खेल (Sport)बॉक्सर (मुक्केबाजी)
भार वर्ग69 किग्रा
कोचपदुम बोरो, शिव सिंह
नेट वर्थलगभग 5 मिलियन डॉलर

Lovlina Borgohain Early Life | लवलीना बोरगोहेन प्रारंभिक जीवन

लवलीना बोरगोहेन का जन्म 2 अक्टूबर 1997 को असम के गोलाघाट जिले में हुआ। उनके पिता टिकेन एक छोटे व्यवसायी हैं, और अपनी बेटी की महत्वाकांक्षा का समर्थन करने के लिए आर्थिक रूप से संघर्ष करते हैं। उनकी माँ मामोनी बोर्गोहेन एक हाउसवाइफ है। उनकी दो बड़ी बहने है जिनका नाम लीचा और लीमा है, जिन्होंने अपना करिअर किकबॉक्सिंग में शुरू किया था। उनसे प्रेरित (inspired) होकर लवलीना ने भी अपने करियर की शुरुआत एक किकबॉक्सर के रूप में की, लेकिन बाद में उन्होंने किकबॉक्सिंग स्विच करके बॉक्सिंग में कदम रखा।

Lovlina Borgohain Family | लवलीना बोरगोहेन परिवार

पिताजी का नामटीकेन बोर्गोहेन
माँ का नाममामोनी बोर्गोहेन
2 बड़ी बहनेलीमा और लीना
वैवाहिक स्थितिअविवाहित

The Sports Authority of India ने उसके हाई स्कूल बारपाथर गर्ल्स हाई स्कूल में ट्रायल आयोजित किया था, जहाँ लवलीना बोरगोहेन ने भाग लिया। वहाँ लवलीना के टैलेंट को नेशनल बॉक्सिंग कोच पदुम बोरो (Podum Boro) ने पहचाना, और 2012 में लवलीना बोरगोहेन ने अपने बॉक्सिंग ट्रेनिंग Podum Boro के निगरानी में शुरू की। आर्थिक रूप से कमजोर होने के बावजूद, लवलीना के पिता ने उसे सहारा देने के लिए बहुत संघर्ष किया।

Lovlina Borgohain Physical Status | लवलीना बोरगोहेन फिजिकल स्टेटस

कद (हाईट)1.77 मीटर (5 फुट 10 इंच)
वज़न69 kg
बालों का रंगकाला
आँखों का रंगकाला

Lovlina Borgohain Boxing Career | लवलीना बोरगोहेन बॉक्सिंग करियर

Boxer Lovlina Borgohain ने अपने शुरुआती दौर में राष्ट्रीय और अंतर-राज्यीय मैचों में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया, जिसकी वजह से उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने बॉक्सिंग करियर की शुरुआत करने का मौका जल्द ही मिल गया। उन्होंने जून 2017 में कजाकिस्तान के अस्ताना शहर में आयोजित प्रेसिडेंट कप में हिस्सा लेकर इंटरनेशनल डेब्यू किया था, जिसमें उन्होंने कांस्य पदक जीता। इसके अलावा इसी साल नवंबर 2017 में, वियतनाम में आयोजित एशियन बॉक्सिंग चैंपियनशिप में भी उन्होंने कांस्य पदक जीता।

लवलीना के करियर का सबसे बड़ा मौका तब आया जब 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स के वेल्टरवेट बॉक्सिंग कैटेगरी में उनका सिलेक्शन हुआ। हालाँकि, उनका सिलेक्शन एक विवाद का विषय था, क्योंकि उन्हें अपने सिलेक्शन के बारे में कोई आधिकारिक सूचना मिली ही नहीं थी। एक प्रमुख मीडिया आउटलेट में कहानी सामने आने के बाद उन्हें अपने सिलेक्शन के बारे में पता चला। हालाँकि, कॉमनवेल्थ गेम्स में वह क्वार्टर फ़ाइनल में यूके की सैंडी रयान से हार गईं। सैंडी रयान ने अंततः उस श्रेणी में स्वर्ण पदक जीता।

2018 कॉमनवेल्थ गेम्स (CWG) में Boxer Lovlina Borgohain के सिलेक्शन का श्रेय फरवरी 2018 में, आयोजित एक इंटरनेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप में उनकी सफलता को दिया गया, जहां उन्होंने वेल्टरवेट वर्ग में स्वर्ण पदक जीता। बाद में, उन्होंने जून 2018 में मंगोलिया में उलानबटार कप (Ulaanbaatar Cup) में सिल्वर मैडल और सितंबर 2018 में पोलैंड में 13वीं इंटरनेशनल सिलेसियन चैम्पियनशिप (13th International Silesian Championship) में ब्रॉन्ज़ मैडल जीता।

Boxer-Lovlina-Borgohain-Boxing-Career

2018 AIBA Women’s World Boxing Championships | 2018 एआईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप

Boxer Lovlina Borgohain ने नई दिल्ली में आयोजित AIBA वूमेंस वर्ल्ड बॉक्सिंग (महिला विश्व मुक्केबाजी) चैंपियनशिप में पहली बार भारत का प्रतिनिधित्व किया, जहां उन्होंने 23 नवंबर 2018 को वेल्टरवेट (69 kg) कैटेगरी में ब्रॉन्ज़ मैडल जीता।

2019 AIBA Women’s World Boxing Championships | 2019 एआईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप

लवलीना बोरगोहेन को रूस के उलान-उडे में अपनी दूसरी वूमेंस वर्ल्ड बॉक्सिंग (महिला विश्व मुक्केबाजी) चैंपियनशिप (2019) के लिए 3 से 13 अक्टूबर तक बिना किसी परीक्षण के चुना गया। वह 69 kg कैटेगरी के सेमीफाइनल में चीन की यांग लियू से 2-3 से हार गईं, और उन्हें ब्रॉन्ज़ मैडल से संतोष करना पड़ा।

2020 एशिया और ओशिनिया बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट

मार्च 2020 में, Boxer Lovlina Borgohain ने 2020 एशिया और ओशिनिया बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट में उज़्बेकिस्तान के माफ़ुनाखोन मेलिएवा पर 5-0 से जीत के साथ 69 kg में ओलंपिक बर्थ हासिल की। इसके साथ ही लवलीना ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली असम की पहली खिलाड़ी बन गई हैं।

2020 Tokyo Olympics | 2020 टोक्यो ओलंपिक

Boxer Lovlina Borgohain ने टोक्यो समर ओलंपिक 2020 में जर्मन मुक्केबाज नादिन अबेट्ज को हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया, और 30 जुलाई 2021 को चीनी मुक्केबाज़ ताइपे की चेन निएन-चिन को हराकर सेमीफइनल में अपनी जगह पक्की की, सेमीफाइनल में पहुँचते ही उन्होंने भारत के लिए कांस्य पदक तो पक्का कर ही लिया, लेकिन भारत के लोगो ने उनसे रजत या स्वर्ण पदक की उम्मीद लगाई थी।

4 अगस्त 2021 को, अपने सेमीफाइनल मैच में Lovlina Borgohain का मुकाबला तुर्की की नंबर वन खिलाडी बुसेनाज सुरमेनेली से हुआ, जहा उन्हें 5-0 से हार का सामना करना पड़ा। हालाँकि पहली बार ओलंपिक खेलने गईं Boxer Lovlina Borgohain (लवलीना बोरगोहेन) ने टोक्यो समर ओलंपिक 2020 में भारत को कांस्य पदक (bronze medal) दिलाया।

Lovlina Borgohain Medals | लवलीना बोरगोहेन मेडल्स

सालप्रतियोगिता का नामआयोजित स्थानपदक
2017विश्व चैंपियनशिपहो ची मिन्ह सिटी, वियतनामकांस्य (Bronze)
2018एशियाई चैंपियनशिपनई दिल्ली ,भारतकांस्य (Bronze)
2019विश्व चैंपियनशिपउलान-उडे, रूसकांस्य (Bronze)
2020ओलंपिकटोकियोकांस्य (Bronze)
2021एशियाई चैंपियनशिपदुबई ,यूनाइटेड अरब अमीरातकांस्य (Bronze)

Lovlina Borgohain Awards And Recognition | लवलीना बोरगोहेन पुरस्कार और मान्यता

Civilian Award | नागरिक पुरस्कार

  • असम सौरव (Asom Sourav), असम का दूसरा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार, 2021

National Awards | राष्ट्रीय पुरस्कार

  • 2020 – अर्जुन अवार्ड – बॉक्सिंग में उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए
  • 2021 – मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार – बॉक्सिंग में उनकी उत्कृष्ट उपलब्धियों के लिए (भारत का सर्वोच्च खेल सम्मान)

Rewards | पुरस्कार

2020 टोक्यो ग्रीष्मकालीन ओलंपिक (Tokyo Summer Olympics) में कांस्य पदक जीतने के लिए –

  • ₹25 लाख – भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की ओर से
  • ₹1 करोड़ – असम सरकार की ओर से
  • ₹30 लाख – भारत सरकार की ओर से
  • ₹3 लाख – असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से

Some Facts About Lovlina Borgohain | लवलीना बोरगोहेन के बारे में कुछ तथ्य

  • मुक्केबाज लवलीना बोर्गोहेन (Boxer Lovlina Borgohain) ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली असम की पहली महिला हैं, और शिव थापा के बाद मुक्केबाजी में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली असम की दूसरी मुक्केबाज हैं।
  • लवलीना की दोनों बड़ी बहनें किकबॉक्सर थीं, जिनसे प्रेरित होकर लवलीना ने भी किशोरावस्था में किकबॉक्सिंग शुरू कर दी थी। उनकी बहनों ने राष्ट्रीय स्तर तक खेल खेला लेकिन उससे आगे नहीं बढ़ सकीं।
  • अपने खाली समय में, वह घूमना और टेलीविजन देखना पसंद करती है।
  • बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन अपना सबसे बड़ा इंस्पिरेशन बॉक्सर मेरी कॉम को मानती है।
  • 2020 में, उन्हें बॉक्सिंग में उनके प्रदर्शन के लिए अर्जुन पुरस्कार मिला।
  • वह अपनी फिजिकल फिटनेस को मेंटेन करने के लिए रोजाना वर्कआउट करती हैं, साथ ही अपना मानसिक संतुलन बनाए रखने के लिए मेडिटेशन भी करती हैं।
  • 2019 में, Borgohain ने स्पोर्ट्स मैनेजमेंट फर्म Infinity Optimal Solutions (IOS) के साथ करार किया, जो उसके विज्ञापन और व्यावसायिक हितों को संभालेगी।
  • 12 जनवरी, 2022 को मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने उन्हें डीएसपी, असम पुलिस के रूप में नियुक्ति पत्र सौंपा।

Lovlina Borgohain Social Media | लवलीना बोरगोहेन सोशल मीडिया

TwitterLovlina Borgohain
InstagramLovlina Borgohain
DSP-Lovlina-Borgohain-Family

Boxer Lovlina Borgohain आज लाखों युवाओं के लिए एक प्रेरणास्त्रोत (Inspiration) है। उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत और लगन के दम पर अपनी सफलता की एक नयी कहानी (Success Story) लिखी है।

अन्य पढ़े:

सामान्य प्रश्न:

Que: लवलीना बोरगोहेन कौन है?

Ans: लवलीना बोरगोहेन एक इंडियन बॉक्सर है।

Que: लवलीना बोरगोहेन का जन्म कब हुआ?

Ans: लवलीना बोरगोहेन का जन्म 2 अक्टूबर 1997 को असम के गोलाघाट जिले में हुआ।

Que: लवलीना बोरगोहेन की उम्र कितनी है?

Ans: लवलीना बोरगोहेन की उम्र 24 साल (2022 तक) है।

Que: लवलीना बोर्गोहेन कहाँ से है?

Ans: लवलीना बोर्गोहेन असम के गोलाघाट जिले से है।

Que: लवलीना ने टोक्यो ओलंपिक 2020 कौनसा मैडल जीता है?

Ans: लवलीना ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में ब्रॉन्ज़ मैडल (कांस्य पदक) जीता

Default image

D DEEPAK

मेरा नाम दिपक देवरुखकर हैं, और मैं महाराष्ट्र के मुंबई शहर विरार का रहने वाला हूँ। मैंने Visual and Communication Art, Worli, Mumbai से डिप्लोमा किया हैं। और अभी मै एक Advertising Agency में As A Graphic Visualizer के रूप में काम कर रहा हु। मुझे पढ़ने और लिखने का शौक है।

Articles: 34

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: